• Breaking News

    बिहार में महागठबंधन के दिन हुए पूरे? 4 दिन बाद नीतीश ले सकते हैं बड़ा फैसला

    बिहार में जारी सियासी खींचतान के बीच मंगलवार को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने एक बार फिर गेंद लालू के पाले में डाल दी. मीटिंग में नीतीश कुमार ने स्पष्ट कर दिया कि भ्रष्टाचार को बिल्कुल बर्दाश्त नहीं किया जाएगा. जेडीयू ने लालू प्रसाद को तेजस्वी यादव पर कार्रवाई करने के लिए चार दिन का अल्टीमेटम दिया है.
    नीतीश कुमार के इस फैसले से ये बात साफ हो गई है कि तेजस्वी यादव के खिलाफ लगे भ्रष्टाचार के आरोपों को उन्होंने गंभीरता से लिया है. यानी साफ है कि वो किसी कीमत पर तेजस्वी को डिप्टी सीएम के रूप में नहीं देखना चाहते. जेडीयू नेताओं के साथ मीटिंग के बाद नीतीश ने लालू प्रसाद यादव को साफ संकेत दे दिए कि वो तेजस्वी का इस्तीफा खुद ही ले लें.
    आरजेडी ने किया था तेजस्वी के इस्तीफे से इनकार
    एक तरफ नीतीश चाह रहे हैं कि लालू यादव खुद अपने बेटे को डिप्टी सीएम पद से हटाएं. वहीं दूसरी तरफ, सोमवार को लालू प्रसाद यादव के घर आरजेडी की जो बैठक हुई, उसके बाद पार्टी ने साफ कर दिया था कि तेजस्वी यादव के इस्तीफे का सवाल ही पैदा नहीं होता.
    आमने-सामने नीतीश-लालू
    तेजस्वी यादव पर उनकी अपनी पार्टी आरजेडी और गठबंधन पार्टी जेडीयू के स्टैंड को देखा जाए तो दोनों के बीच तलवार खिंची नजर आती है. हालांकि, ये बात भी सामने आई थी कि सोमवार को आरजेडी की मीटिंग से पहले नीतीश कुमार ने लालू यादव से फोन पर बातचीत की थी. बताया जा रहा था कि दोनों के बीच महागठबंधन को बचाने और बिहार के सियासी भूचाल को रोकने पर मंत्रणा हुई थी. मगर दो दिनों में दोनों पार्टियों की मीटिंग से जो रुख सामने आया है, उससे तो यही जाहिर होता है कि बिहार की राजनीति में कोई बड़ा तूफान आने वाला है.

    No comments:

    Post a Comment

    सिनेजगत

    जरा हटके

    Alexa

    ज्योतिष

    Followers