• Breaking News

    .

    .

    किशोर दा के पैतृक मकान को गिराने की तैयारी, 24 घंटे में खाली करने का नोटिस

    मध्यप्रदेश के खंडवा नगर निगम ने बॉलीवुड के महान गायक किशोर कुमार के पैतृक मकान के एक हिस्से को जर्जर मानते हुऐ इसे जमींदोज करने का नोटिस चस्पा किया है.

    बॉलीवुड के इस महान गायक का पारिवारिक मकान गौरीकुंज मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल से लगभग 250 किलोमीटर दूर खंडवा नगर के बाम्बे बाजार क्षेत्र में स्थित है.

    खंडवा नगर निगम के आयुक्त जेजे जोशी ने बताया कि हमने किशोर कुमार के पैतृक मकान के पीछे के हिस्से को जर्जर होने के कारण खतरनाक करार देते हुए इसे गिराने के लिये भवन पर नोटिस चस्पा कर दिया है.

    उन्होंने कहा कि फिलहाल इस मकान में कोई नहीं रहता है इसलिये नोटिस मकान पर चस्पा किया गया है. इसमें मकान मालिक को मकान के खतरनाक हिस्से को गिराने के लिये कहा गया है. वर्षा से पूर्व खतरनाक भवनों की जांच करने की यह हमारी सामान्य गतिविधि है.
    मालूम हो कि किशोर कुमार, उनके भाई अशोक कुमार और अनूप कुमार ने अपने प्रारंभिक वर्ष इसी मकान में बिताये हैं.

    किशोर कुमार का जन्म 4 अगस्त 1929 को खंडवा में हुआ था. खंडवा से वह मुम्बई चले गये लेकिन वह हमेशा वापस अपने जन्मस्थान खंडवा आना चाहते थे. 13 अक्टूबर 1987 को अपनी मृत्यु से पहले उन्होंने अपनी यह अंतिम इच्छा व्यक्त की थी, लेकिन यह पूरी नहीं हो सकी. हालांकि उनकी इच्छा के मुताबिक उनकी मौत के बाद उनका अंतिम संस्कार खंडवा में ही किया गया था.

    किशोर कुमार की स्मृति में मध्यप्रदेश सरकार ने 1997 में किशोर कुमार सम्मान शुरू किया, जो फिल्म निर्देशन, अभिनय, कहानी लेखन और गीत लेखन के क्षेत्र में प्रतिवर्ष दिया जाता है.

    स्थानीय सामाजिक कार्यकर्ता जय नागड़ा ने कहा कि यह संपत्ति कई वर्षों से लगातार नजरअंदाज की जा रही है. किशोर दा के परिवार से कोई भी व्यक्ति इस संपत्ति की देखभाल के लिये यहां नहीं आता है. यह मालूम हुआ कि यह संपत्ति अब अनूप कुमार के हिस्से में है. स्थानीय लोगों ने कई दफा यह मांग की है कि इस भवन को किशोर कुमार की याद में संग्रहालय बनाया जाना चाहिये, लेकिन किसी ने इस बारे में अब तक कोई रुचि नहीं दिखाई है.

    No comments:

    Post a Comment

    सिनेजगत

    जरा हटके

    Alexa

    ज्योतिष

    Followers