ऑडियो टेप लीक मामलाः नीतीश ने लालू के खिलाफ जांच के दिए आदेश - jabalpur awaaz

Breaking

Sunday, 7 May 2017

ऑडियो टेप लीक मामलाः नीतीश ने लालू के खिलाफ जांच के दिए आदेश

पटना। डॉन शहाबुद्दीन का राजद प्रमुख लालू यादव के साथ ऑडियो टेप लीक होने के बाद राजनीति गलियारों में हलचल सी मच गई है। सभी लोगों की निगाहें सिर्फ इस बात पर टिकी हुई है कि इस टेप के सामने आने के बाद नीतीश कुमार क्या एक्शन लेंगे। नीतीश कुमार के एक्शन से पहले भाजपा नेताओं के रिएक्शन सामने आ गए हैं। भाजपा नेता अपनी शिकायतों का पिटारा लेकर राजभवन पहुंचे।
नीतीश ने की बैठक
भाजपा नेताओं के राजभवन पहुंचने से पहले सीएम नीतीश कुमार ने पार्टी प्रवक्ताओं और फिर डीजीपी पीके ठाकुर के साथ बैठक की। नीतीश ने ठाकुर को टेप की की जांच का ऑर्डर दिया है। सूत्रों के हवाले से मिल रही जानकारी के मुताबिक नीतीश ने अधिकारियों को निष्पक्ष जांच करने का आदेश दिया है। बैठक में नीतीश ने ये भी कहा है कि इस मामले की जांच रिपोर्ट आने के बाद ही वो सोचेंगे की आखिरकार उन्हें क्या एक्शन लेना है।
लालू का टेप आया सामने
गौरतलब है कि शनिवार(07-05-17) को एक मशहूर चैनल ने दावा करते हुए एक ऑडियो टेप जारी किया है। इस ऑडियो टेप में लालू और शहाबुद्दीन बात करते हुए सुनाई दे रहे हैं। चैनल की ओर से जारी टेप के मुताबिक, शहाबुद्दीन ने सीवान जेल में रहते लालू प्रसाद से फोन पर बात की। यह टेप 15 अप्रैल 2016 का है।
लालू ने साधी चुप्पी
ऑडियो टेप आने के बाद एक तरफ सीएम नीतीश कुमार बैठकें कर रहे हैं तो दूसरी तरफ लालू यादव ने इस मामले पर चुप्पी साध रखी है। लालू यादव के घर के बाहर एक वक्त पहले लोगों का जमावड़ा लगा रहता वहीं, टेप आने के बाद घर के बाहर सन्नाटा पसरा हुआ है। लालू समेत उनके पूरे परिवार ने मीडिया से दूरी बनाए रखी।
हालांकि मीडिया के लोग पूरे दिन उनके घर के सामने डेरा डाले रहे। लालू ने शाम में लोगों से मिलने का प्रोग्राम भी स्थगित कर दिया। परिवारवालों ने आने-जाने के लिए दूसरे गेट का इस्तेमाल किया जा रहा है।
भाजपा ने मांगा इस्तीफा
मिट्टी घोटाले में लालू यादव का नाम आने के बाद भाजपा पहले से घात लगाए बैठी हुई है कि आखिरकार कब उसे मौका मिले और वो नीतीश पर हमला बोल सकें। ऑडियो टेप सामने आने के बाद भाजपा ने नीतीश कुमार से इस्तीफा मांगा है। भाजपा नेता सुशील मोदी ने कहा है कि ये टेप साबित कर रहा है कि मामला काफी लंबे समय से चल रहा है।मोदी ने कहा- नीतीश हिम्मत दिखाएं और ये गठबंधन तोड़ दें।

No comments:

Post a Comment

Whatsapp status