• Breaking News

    .

    .

    बाप बेटे में फिर से आई दरार, अखिलेश की हां और मुलायम की ना!

    लखनऊ। समाजवादी पार्टी में लगता है एक बार फिर से सियासी जंग छिड़ने वाली है। जहां एक तरफ सपा के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने शनिवार(16-04-17) को प्रेस कॉन्फ्रेंस में भाजपा के विजयी रथ को रोकने के लिए गठबंधन के संकेत दिए थे। वहीं, सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव ने एक बार फिर से अखिलेश की बात को खारिज करते हुए कहा है कि सपा को किसी के साथ गठबंधन करने की जरूरत नहीं है।
    सपा अकेले लड़ने में सक्षम
    मुलायम सिंह यादव ने कहा है, ‘’समाजवादी पार्टी किसी से भी गठबंधन नहीं करेगी। सपा अकेले चुनाव लड़ने के लिए पर्याप्त है।’’
    अखिलेश ने दिए संकेत
    गौरतलब है कि शनिवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित करते हुए अखिलेश ने इशारों-इशारों में कहा था कि प्रधानमंत्री मोदी और यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के मिशन 2019 को रोकने के लिए वो एकजुट हो सकते हैं। संवाददाताओं से बातचीत के दौरान अखिलेश ने कहा, ‘’हम तो हर एक का स्वागत करने वाले लोग हैं। हमने पहले भी स्वागत किया था, तब भी बहुत बड़ी खबर निकली थी। जब परिणाम उस समय नहीं आया था, हम तो अब भी तैयार हैं।’’
    माया भी हैं तैयार!
    अखिलेश की प्रेस कॉन्फ्रेंस से कुछ दिनों पहले ही बसपा सुप्रीमो मायावती ने कहा था कि लोकतंत्र को बचाने के लिए भाजपा ईवीएम में हुई गड़बड़ी के विरुद्ध किए जा रहे संघर्ष में यदि बीजेपी विरोधी पार्टियां भी हमारे साथ आना चाहेंगी तो उनके साथ भी अब हमें हाथ मिलाने में कोई परहेज नहीं होगा।’’
    अखिलेश का बयान सामने आने के बाद राजनीतिक गलियारों में इस बात की अशंका तेज हो गई थी कि साल 2019 में होने वाले लोकसभा चुनावों में समाजवादी पार्टी बसपा के साथ हाथ मिला सकत है। बता दें कि गत दिनों हुए विधानसभा चुनावों के दौरान भी अखिलेश यादव के फैसले पर कांग्रेस से हाथ मिलाकर चुनाव लड़ा था।

    No comments:

    Post a Comment

    सिनेजगत

    जरा हटके

    Alexa

    ज्योतिष

    Followers